10 साल की इस छोटी बच्ची ने अपने समर्पण से सबको हैरत में डाल दिया

मामला भारत के पूर्वी राज्य मणिपुर का है। माता-पिता की गैर-मौजूदगी में 10 साल की इस बच्ची ने अपनी छोटी बहन को घर में अकेला छोड़ने के बजाय उसे अपने साथ स्कूल लेने जाना बेहतर समझा, ताकि उसकी पढ़ाई के साथ छोटी बहन की देखभाल भी हो जाए।

सोशल मीडिया पर अब इस बच्ची की तस्वीर काफी वायरल हो रही है। बच्ची का पढ़ाई के प्रति समर्पण को देखकर लोग काफी तारीफ कर रहे हैं। बता दें कि यह बच्ची चौथी कक्षा में पढ़ती है और अपनी छोटी बहन को लेकर कक्षा में पढ़ाई करती हुई दिख रही है।

इस तस्वीर को शेयर किया है मणिपुर के ऊर्जा, वन और पर्यावरण मंत्री थोंगम बिस्वजीत सिंह ने। उन्होंने तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा है कि पढ़ाई को लेकर बच्ची के लगन में मुझे हैरत में डाल दिया है। 10 साल की यह छात्रा कक्षा 4 में पढ़ती है। बच्ची का नाम मेंनिंगसिनलिव पामेई है और मणिपुर के तैमेंगलॉन्ग में रहती है।

10 साल की इस छोटी बच्ची ने अपने समर्पण से सबको हैरत में डाल दिया

सोशल मीडिया पर बच्ची की यह तस्वीर काफी वायरल हो रही है। वायरल तस्वीर की लोग काफी तारीफ कर रहे हैं। तस्वीर को मणिपुर के ऊर्जा, वन और पर्यावरण मंत्री थोंगम बिस्वजीत सिंह ने शेयर किया है और कहा है कि ‘पढ़ाई को लेकर बच्ची की लगन ने मुझे हैरत में डाल दिया! 10 साल की यह छात्रा कक्षा 4 में पढ़ती है। उसका नाम मेंनिंगसिनलिव पामेई ( Meiningsinliu Pamei) है, जो मणिपुर के तैमेंगलॉन्ग की है। वो स्कूल में अपनी छोटी बहन को गोद में लेकर पहुंची, क्योंकि उसके माता-पिता खेत में काम कर रहे हैं।’

उन्होंने आगे लिखा कि जैसे ही सोशल मीडिया पर इस खबर को मैंने देखा, तुरंत ही बच्ची के परिवार से संपर्क किया और उन्हें आश्वासन दिया कि जब तक बच्ची ग्रेजुएट नहीं हो जाती, मैं खुद उसकी पढ़ाई का पूरा ध्यान रखूंगा। उसके इस समर्पण पर मुझे गर्व है। बच्ची की इस तस्वीर पर यूजर्स अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं और बच्ची के जज्बे को यूजर्स सैल्यूट कर रहे हैं।

Follow us for More Latest News on
Author- @admin

Facebook- @digit36o

Twitter- @digit360in

Instagram- @digit360in