पीएम मोदी आज सूर्यास्त के बाद देंगे लाल किले से भाषण, जानिए क्या है पूरा मामला?

आज रात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रचेंने वाले है नया इतिहास। पीएम मोदी आज सूर्यास्त के बाद लाल किले (Red Fort) से भाषण देकर एक और पुरानी प्रथा तोड़ने जा रहे हैं। आमतौर पर दिल्ली स्थित लाल किले से पीएम का भाषण स्वतंत्रता दिवस के मौके पर ही होता है।

दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज गुरु तेग बहादुर की 400वीं जयंती (400th Birth Anniversary of Guru Tegh Bahadur) के मौके पर राष्ट्र को संबोधित करेंगे। ये संबोधन पीएम मोदी सूर्यास्त के बाद लाल किले से देश को संबोधित करके जो इतिहास में पहली बार होगा। इसी प्रकार पीएम मोदी सूर्यास्त के बाद मुगलकालीन स्मारक से देश को संबोधित करने वाले देश के पहले प्रधानमंत्री बन जाएंगे। जानकारी के मुताबिक पीएम मोदी आज की रात 9.30 बजे भाषण देंगे।

संस्कृति मंत्रालय के अधिकारियों के अनुसार, क्योंकि इसी किले से मुगल शासक औरंगजेब ने 1675 में सिखों के नौवें गुरु, गुरु तेग बहादुर का सिर कलम करने का आदेश दिया था, यही कारण है कि लाल किले को गुरु तेग बहादुर की 400 वीं जयंती के आयोजन स्थल के रूप में चुना गया। लाल किले की प्राचीर वह जगह है जहां से प्रधानमंत्री स्वतंत्रता दिवस पर राष्ट्र को संबोधित करते हैं।

किले की सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था

अधिकारियों ने बताया की इसके लिए सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। पीएम की सुरक्षा में लाल किले में 1000 कर्मी और अन्य एजेंसियों के जवान शामिल होंगे। लाल किला परिसर में 100 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं। इनमें वह स्थान शामिल हैं, जहां से पीएम देश को संबोधित करेंगे। इस अवसर पर प्रधानमंत्री एक विशेष सिक्का और डाक टिकट भी जारी करेंगे।

2018 के बाद दूसरी बार

स्वतंत्रता दिवस के अलावा, यह दूसरी बार है जब पीएम मोदी इस ऐतिहासिक स्मारक से भाषण देंगे। इससे पहले, 2018 में उन्होंने नेताजी सुभाष चंद्र बोस द्वारा आजाद हिंद सरकार के गठन की 75वीं वर्षगांठ मनाई थी और लाल किले पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया था. हालांकि, उस मौके पर प्रधानमंत्री का संबोधन सुबह 9 बजे हुआ था, जबकि इस बार सूर्यास्त के बाद होगा।

यह भी पढ़ें: जहांगीरपुरी में बुलडोजर चलेगा या रुकेगा, आज करेगा सुप्रीम कोर्ट फैसला

Follow us for More Latest News on
Author- @admin

Facebook- @digit36o

Twitter- @digit360in

Instagram- @digit360in