प्रधानमंत्री मोदी ने सत्ता को लोगों की तकदीर बदलने का माध्यम बनाया: JP Nadda

नई दिल्ली: भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष JP Nadda ने कर्णावती, गुजरात में कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि जिनको भी हमारी पार्टी में काम करने का सौभाग्य मिला है। वह विचारधारा की दृष्टि से स्पष्ट हो जाये कि भाजपा का कोई पर्यायवाची नहीं ही। यही पार्टी है जिसके माध्यम से हमें आगे का रास्ता मिलेगा। हम सबका सौभाग्य है कि हम भाजपा के कार्यकर्ता हैं। मेरा सभी पार्टियों के लोगों और नेताओं के साथ परिचय है। मैं उनके हालात जानता हूं कि किन परिस्थितियों से वो गुजर रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने सत्ता को लोगों की तकदीर बदलने का माध्यम बनाया

जेपी नड्डा (JP Nadda) बोले पहले के लोगों के लिए राजनीति मेवा खाने के लिए होती थी, हमारे लिए राजनीति सेवा करने के लिए है। प्रधानमंत्री ने राजनीति की रीति-नीति, संस्कृति बदल दी है। इससे पहले जो राजनीतिक दल सत्ता में थे, वे सत्ता के बल पर अपना उत्थान करते थे। प्रधानमंत्री मोदी ने सत्ता को लोगों की तकदीर बदलने का माध्यम बनाया। प्रधानमंत्री मोदी ने जनता के बीच अपना रिपोर्ट कार्ड लेकर जाने की संस्कृति बनाई और विरोधियों को भी विकासवाद की राजनीति से जोड़ा है। उन विरोधियों से पहले विकास की बात सुनने को तक नहीं मिलती थी।

ये सिर्फ भाई-बहन की पार्टी बनकर रह गई

आगे उन्होनें जनता को संबोधित करते हुए कहा कि राजनीतिक दलों के लोग पहले लुभावने वादों के साथ घोषणा पत्र लेकर आते थे और 5 साल तक लोगों को भुला देते थे। 5 साल के बाद फिर नया घोषणा पत्र लेकर आ जाते थे। पहले देश के विभिन्न राज्यों में जो क्षेत्रीय पार्टियां आईं, वो बाद में परिवार की पार्टी बनकर रह गईं। इंडियन नेशनल कांग्रेस भी अब न इंडियन रह गई है, न ये नेशनल रह गई है और न ये पार्टी रह गई है। ये सिर्फ भाई-बहन की पार्टी बनकर रह गई है। ऑपरेशन गंगा के तहत रूस और यूक्रेन के नेतृत्व से बात करके भारत 23,000 बच्चों को युद्ध के हालात से बचाकर वापस लाया। भाजपा के करोड़ों कार्यकर्ताओं ने इस बीच बच्चों के परिजनों को ढांढस बंधाया और मोदी सरकार में बच्चों की सकुशल वापसी का भरोसा दिया था।

गुजरात में भी 97.4% लोगों का टीकाकरण हो चुका पूरा

जनता को संबोधित करते हुए नड्डा (JP Nadda) बोले देश भर में अब तक 188 करोड़ से अधिक वैक्सीन डोज लगाई जा चुकी है। लगभग 100 देशों को वैक्सीन मैत्री के तहत वैक्सीन डोज पहुंचाई गई है। गुजरात में भी 97.4% लोगों का टीकाकरण पूर्ण हो चुका है। हमें इस बात की कोशिश करनी चाहिए कि केंद्र सरकार के सभी कार्यक्रम और गुजरात सरकार के सभी कार्यक्रमों का लाभ गरीब, दलित, पीड़ित, शोषित, समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्तियों को मिले। इन कार्यक्रमों के माध्यम से हमें समाज में परिवर्तन के एजेंट के रूप में काम करना चाहिए। गुजरात के विकास का मॉडल पूरे देश के लिए एक तरीके से हमें दिशा देता है। इस मॉडल को PM ने गुजरात का मुख्यमंत्री रहते हुए कार्यरूप दिया था, उसे आज हम पूरे देश में आगे बढ़ा रहे हैं।

Read Also:- MP Board Result 2022: 12वीं की मेरिट में छात्राएं बनीं टॅापर, 72.72 फीसदी छात्र हुए पास

Follow us for More Latest News on
Author- @admin

Facebook- @digit36o

Twitter- @digit360in

Instagram- @digit360in