हिन्दुओं की आस्था को ठेस पहुंचाना कांग्रेस का सेक्यूलरिज्म: राज्यवर्धन राठौर

जयपुर/नई दिल्ली: शुक्रवार को राजस्थान सरकार ने अलवर में करीब 300 साल पुराने मंदिर को ढहा (Alwar Temple Demolition) दिया है। अलवर जिले के सराय मोहल्ला में स्थित 300 पुराने शिव मंदिर पर प्रशासन ने बुलडोजर चला दिया गया है। बुलडोजर चलाए जाने के बाद से हिन्दूवादी संगठनों में रोष व्याप्त है। वहीं मंदिर तोड़े जाने को लेकर भाजपा ने कांग्रेस पर हमला बोल दिया है।

राजस्थान को तालिबान बना दिया

अलवर घटना पर राज्यवर्धन सिंह राठौर ने गहलोत सरकार पर वार करते हुए कहा है कि राजस्थान को तालिबान बना दिया है। हमारा प्रदेश जो बहादुरी व महिला सम्मान के लिए जाना जाता था वो अब महिला उत्पीड़न में पहले नंबर पर है। मंदिर तोड़ने में राज्य पहले नंबर पर है जैसे किसी एक विशेष समुदाय के लिए सरकार चला रहे हों।

अलवर में 300 साल पुराने मंदिर पर चला बुलडोजर, BJP ने पूछा-यही है कांग्रेस का सेक्युलरिज्म

वहीं अलवर में मंदिर विध्वंस (Alwar Temple Demolition) पर BJP सांसद किरोड़ी मीणा ने कहा कि हम अलवर में रात भर धरने पर थे लेकिन प्रशासन की ओर से कोई जवाब नहीं आया। अशोक गहलोत ने घरों और एक मंदिर को ध्वस्त करने के लिए बुलडोज़र लगाया, गहलोत साहब देशभर में चल रहे बुलडोज़र की ख़िलाफत करते हैं और खुद यहां बुलडोज़र चलवाते हैं।

हिन्दुओं की आस्था को ठेस पहुंचाना कांग्रेस का सेक्यूलरिज्म

बता दें कि अलवर के राजगढ़ में तीन मंदिरों को गिराने का मामला सामने आने के बाद भाजपा के लोग कांग्रेस पार्टी पर हमलावर हो गई है। अलवर के ही सराय मोहल्ला स्थित इस पुराने मंदिर को गिराए जाने से भड़के भाजपा नेता अमित मालवीय ने कांग्रेस से पूछा कि क्या यही सेक्यूलरिज्म है। भाजपा के अमित मालवीय ने अपने ट्वीटर पर लिखा है कि राजस्थान के अलवर में विकास के नाम पर तोड़ा गया 300 साल पुराना शिव मंदिर करौली और हिन्दुओं की आस्था को ठेस पहुंचाना, यही कांग्रेस का सेक्यूलरिज्म है।

Follow us for More Latest News on
Author- @admin

Facebook- @digit36o

Twitter- @digit360in

Instagram- @digit360in