पश्चिमी यूपी में गठबंधन नहीं पकड़ पाया रफ्तार, पूर्वांचल में किया अच्छा प्रदर्शन

UP Elections 2022: देश के सबसे बड़े राज्य के विधानसभा चुनाव के नतीजे आ गए हैं। बीजेपी ने भारी बहुमत के साथ जीत हासिल की और एक बार फिर सत्ता पर काबिज हो गई है। लेकिन अगर विपक्षी पार्टियों की बात की जाए तो इस बार गठबंधन ने अच्छा प्रदर्शन किया है। अगर 2017 की बात की जाए तो समाजवादी पार्टी ने कुल 52 सीटें जीती थी। लेकिन सपा और आरएलडी ने मिलकर 125 सीटों के आंकड़े को छू लिया है।

जाट और मुस्लिम वोटों को नहीं समेट पाया गठबंधन

इस बार पूर्वांचल में गठबंधन ने अच्छा प्रदर्शन किया है। लेकिन दोनों पार्टियां मिलकर भी किसान आंदोलन वाले पश्चिमी यूपी में जाट और मुस्लिम वोटों को समेटने में कामयाब नहीं हो सकी। आपको बता दें कि समाजवादी और आरएलडी ने मिलकर 43 सीटों पर कब्जा कर लिया है। इसमें 8 सीटें आरएलडी ने जीती  हैं।  जबकि अवध में 26, बुंदेलखंड में 3, वहीं पूर्वांचल में 53 सीटें जीत ली हैं।

पश्चिमी यूपी में आरएलडी के खाते में आईं यें 8 सीटें

थाना भवन- अशरफ अली खान, RLD

सिवलखास- गुलाम मोहम्मद, RLD

शामली- पर्सन कुमार, RLD

पुरकाज़ी- अनिल कुमार, RLD

सादाबाद- प्रदीप कुमार सिंह, RLD

बुढाना- राजपाल सिंह बाल्यान, RLD

छपरौली- अजय कुमार, RLD

मीरापुर- चंदन चौहान, RLD

अवध में किसकी कितनी सीटें

 अवध में कुल सीटों की संख्या 109 है। जिसमें बीजेपी गठबंधन ने 83 सीटों पर कब्जा किया है। वहीं सपा गठबंधन  ने 26 सीटों पर अपना कब्जा जमाया है। इस चुनाव में बीएसपी और कांग्रेस ने कुछ खास प्रर्दशन नहीं किया है।

पूर्वांचल में किसका दिखा दम

सहां पर कुल सीटों की संख्या 139 है। जिसमें भाजपा गठवंधन ने 81 सीटों पर अपना कब्जा जमाया है। यहां पर सपा गठबंधन ने 53 सीट जीती हैं। कांग्रेस ने यहां पर 3 सीटों पर कब्जा किया है। बीएसपी के खाते में 1 सीट और अन्य ने 2 सीटें जीती है।

पश्चिमी यूपी में किसका दम?

पश्चिमी उत्तरप्रदेश में कुल सीटें 136 है। जिसमें में से 93 सीटें

बीजेपी के खाते में गई। वहीं सपा और RLD ने यहां पर 43 सीटें जीती है।

मुजफ्फरनगर में ये रहे नतीजे

मुजफ्फरनगर के जिस जाट बहुल क्षेत्र में किसानों का मुद्दा सबसे ज्यादा गूंजा, वहां सपा-RLD गठबंधन ने 6 में से 4 सीटें पुरकाजी, चरथवल, मीरापुर और बुढ़ाना में जीत हासिल की है। छपरौली विधानसभा सीट पर  RLD ने तीसरी बार अपना कब्जा कर लिया है। 2012 व 2017 में आरएलडी ने इस सीट पर जीत हासिल की थी।

शामली की सीट किसके खाते में

शामली की सभी 3 सीटें सपा-RLD गठबंधन के खाते में गई हैं।थाना भवन से बीजेपी सरकार के गन्ना मंत्री सुरेश राणा हार गए हैं। कैराना में सपा के नाहिद हसन ने भाजपा की मृगांका सिंह को हराया है। शामली सीट से सपा के उम्मीदवार प्रसन्न कुमार ने जीत हासिल की है।

Follow us for More Latest News on
Author- @admin

Facebook- @digit36o

Twitter- @digit360in

Instagram- @digit360in