AMU के असिस्टेंट प्रोफेसर ने रेप पर लेक्चर में किया हिंदू देवी-देवताओं का अपमान

अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में एक असिस्टेंट प्रोफेसर ने रेप पर लेक्चर के दौरान हिंदू देवी-देवताओं पर अभद्र टिप्पणी की। जिसके बाद विवाद बढ़ गया। प्रोफेसर ने रेप पर लेक्चर देते समय उदाहरण के तौर पर देवी-देवताओं का जिक्र किया। विवाद के बाद अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय प्रशासन और फैकल्टी ऑफ मेडिसिन ने दुष्कर्म के पौराणिक संदर्भ पर एक स्लाइड की सामग्री की कड़ी निंदा की।

मामले में विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्रों, कर्मचारियों और नागरिकों की धार्मिक भावनाओं को आहत करने के लिए असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. जितेंद्र कुमार को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। 24 घंटे में उनसे जवाब देने को कहा गया है।

इस मामले की जांच और घटना की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए दो सदस्यीय जांच समिति गठित की गई है। इस बीच डॉ जितेंद्र कुमार ने विवाद बढ़ता देख बिना शर्त माफी मांग ली है। अपना माफीनामा विश्वविद्यालय को सौंप दिया है।

मामला फॉरेंसिक मेडिसिन डिपार्टमेंट के एक असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. जितेंद्र का है। प्रोफेसर ने रेप पर क्लास में लेक्चर दिया था। अपने लेक्चर में प्रोफेसर ने हिंदू देवी-देवाताओं को उदाहरण के तौर पर पेश किया था।

पढ़ें- यूक्रेन में तबाह हो चुके शहरों में मिल रहे लाशों के पहाड़, बूचा में 410 लाशें एक साथ मिली

AMU प्रशासन ने लिया एक्शन

विश्वविद्यालय प्रशासन ने विवाद के बाद धार्मिक भावनाओं को आहत करने पर असिस्टेंट प्रोफेसर को निलंबित कर दिया है। इस संबंध में विश्वविद्यालय ने ट्वीट के जरिए जानकारी दी है।

कई धाराओं में प्राथमिकी दर्ज

इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, अंचल अधिकारी श्वेताभ पांडेय ने कहा, ‘हमारे संज्ञान में आया है कि जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के सहायक प्रोफेसर डॉ जितेंद्र कुमार ने धार्मिक भावनाओं को आहत करने वाली आपत्तिजनक भाषा के साथ पावरपॉइंट प्रेजेंटेशन का इस्तेमाल किया था। निशेश शर्मा की शिकायत के आधार पर उनके खिलाफ आईपीसी की कई धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है।

Follow us for More Latest News on
Author- @admin

Facebook- @digit36o

Twitter- @digit360in

Instagram- @digit360in