खरगोन हिंसा: इरबिस खान की मौत के मामले में 5 गिरफ्तार, NSA के तहत कार्रवाई

मध्य प्रदेश के खरगोन में हुई हिंसा के दौरान इरबिस खान की मौत के मामलों में पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है, तीन अभी भी फरार बताए जा रहे हैं। आरोपियों ने कबूला है कि उन्होंने इरबिस संग मारपीट की थी। इस मामले में एक आरोपी पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत केस दर्ज किया गया है। वहीं, तीन आरोपी अभी फरार हैं।

बताते चलें कि 10 अप्रैल को रामनवमी जुलूस के दौरान हुई हिंसा में शहर के इस्लामपुरा निवासी 30 साल का इबरिस खान लापता हो गया था। जिसके बाद परिजनों 14 अप्रैल को इरबिस की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। परिजनों ने जो हुलिया बताया वह हिंसा के दौरान मिली एक लाश से मिलता जुलता था। परिवार को लाश दिखाई गई तो सारी तस्वीर साफ हो गई।

खरगोन हिंसा में तीसरे आरोपी NSA की कार्यवाही

इस मामले में आरोपी दिलीप, संदीप, अजय कर्मा, अजय सोलंकी और दीपक प्रधान को गिरफ्तार किया गया है। अभी तीन आरोपी फरार हैं। एसपी ने बताया कि एक और आरोपी फिरोज उर्फ सेजू पिता अकरम खान पर एनएसए की कार्यवाही की गई है। हिंसा मामले में अब तक तीसरे आरोपियों पर यह NSA की कार्यवाही हुई है।

106 फरार आरेपियों पर 10 हजार रूपये के इनाम

पुलिस ने खरगोन हिंसा मामले में 106 फरार आरेपियों पर 10 हजार रूपये के इनाम की धोषणा की है। पुलिस के मुताबिक, खरगोन हिंसा मामले में कुल 63 एफआईआर दर्ज हुई हैं और इनके तहत 265 लोगों को आरोपी बनाया गया है। अब तक 168 की गिरफ्तारी हो चुकी है।

गौरतलब है कि खरगोन हिंसा में 50 लोग से ज्यादा घायल हुए। घायलों में एसपी सहित 6 पुलिस के जवान भी शामिल थे। तब एसडीएम ने कहा इस हिंसा में अभी संभावित करोड़ की संपत्ति के नुकसान का अनुमान जताया था। उपद्रवियों द्वारा की गई हिंसा में भारी नुकसान हुआ है. दुकानें, मकान, वाहन और हाथ ठेला को डैमेज किया गया।

साथ ही कई गाड़ियों को आग में फूंक दिया गया था। आंशिक रूप से 4 दुकानों को नुकसान पहुंचा। 7 दुकानें संपूर्ण रूप से नष्ट हो गईं। 70 मकान आंशिक रूप से नष्ट हुए, जबकि 10 मकान पूरी तरह से नष्ट हो गए। इसके अलावा 6 चार पहिया वाहन और एक तीन पहिया वाहन, 22 दोपहिया वाहन और 2 हाथ ठेला पूरी तरह से नष्ट हो गए।

Follow us for More Latest News on
Author- @admin

Facebook- @digit36o

Twitter- @digit360in

Instagram- @digit360in